आयकर विभाग ने बकरी चरवाह को भेजा टैक्स चुकाने का नोटिस

आयकर विभाग

आयकर टैक्स सही समय पर न भेजने के कारण आपको नोटिस मिलता है, पर बकरी चराने वाले गरीब व्यक्ति को ऐसा नोटिस भेजना कहां तक उचित कहा जा सकता है। अपने ही देश में यह घटना हाल ही में घटी है। जिसमें आयकर विभाग की ओर से एक बकरी चराने वाले शख्स को आयकर रिटर्न करने का नोटिस भेजा गया है। आपको बता दें कि यह घटना छत्तीसगढ़ प्रदेश की राजधानी रायपुर से सामने आई है। असल में हुआ यह है कि आयकर विभाग की तरफ से व्यापारियों को आयकर रिटर्न करने के लिए सुचना के तौर पर नोटिस भेजा जा रहा है।

इसी क्रम में प्रतिदिन कमा कर अपना जीवन यापन करने वाले अवधनाथ को भी आयकर विभाग से नोटिस भेजा है। इस नोटिस में लिखा गया है कि “आय के स्त्रोत में कटौती करने के बाद यह पाया गया है कि अवधनाथ ने 2016-17 और 2017-18 का आयकर नही भरा है। अतः सही समय से आयकर को जमा करें। यदि समय से आयकर जमा नहीं किया गया तो कानूनी कार्यवाही की जाएंगी।” आपको बता दें कि आयकर को लेकर सरकार ने अब कानून काफी कड़े कर दिए हैं। समय से आयकर न जमा  कराने पर अब दंड स्वरुप 5 हजार रुपये जुर्माना तथा जेल का प्रावधान बना दिया गया है।

अवधनाथ सहित परिवार के लोग हैरान

अवधनाथ सहित परिवार के लोग हैरानImage source:

अवधनाथ इस नोटिस को देखकर खुद हैरान है। उसका कहना है कि उसने कभी भी इनकम टैक्स जमा नहीं किया है। वह खेती करके तथा बकरियां चराकर अपना जीवन यापन करता है। ऐसे में आयकर विभाग की ओर से उसको आखिर क्यों नोटिस भेजा गया है।” इस नोटिस को देखकर अवधनाथ के परिवार वाले भी हैरान है तथा अन्य लोग भी इस नोटिस को देखकर घबराएं हुए हैं। इस नोटिस में 31 मार्च तक इनकम टैक्स जमा करने के लिए कहा गया है। इस प्रकार से देखा जाएं तो मोटे तौर पर यही समझ में आता है कि आयकर विभाग द्वारा अवधनाथ को जारी किया गया यह नोटिस असल में धोखे या गलती से उसके पास पहुंच गया है लेकिन अभी तक इस बारे में विभाग की तरफ से किसी प्रकार का कोई माफीनामा सामने नहीं आया है।

To Top