जानें कैसा रहा ऑड ईवन के पहले दिन का हाल

दिल्ली में शुक्रवार से दूसरे चरण का ऑड ईवन फॉर्मूला फिर से पंद्रह दिनों के लिए लागू कर दिया गया है। जिस कारण आज राजधानी की सड़कों पर ऑड नंबर की ही गाड़ियां चल रही हैं, लेकिन रामनवमी के इस खास दिन लोगों को कई तरह की परेशानियां झेलने को मिलीं। इस आॅड ईवन नियम का उल्लंघन करने पर दिल्ली यातायात पुलिस ने अब तक 500 से भी अधिक लोगों का चालान काट दिया है। कई लोगों को मंदिर में पूजा करने के लिए अपना चालान कटवाना पड़ा, तो कई का इलाज कराने के लिए अस्पताल जाते समय चालान कटा।

नियम तोड़ने वालों पर दो हजार रुपए का जुर्माना लगा।

हम आपको यह बता दें कि आज यानी कि 15 अप्रैल से शुरू हुआ ऑड ईवन फॉर्मूला 30 अप्रैल तक चलने वाला है। इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसे 1 जनवरी से 15 जनवरी तक जारी रखा था। यह योजना काफी सफल भी रही, जिसके बाद अब इस ऑड ईवन फॉर्मूले को फिर से लागू किया जा रहा है। इस योजना के तहत ऑड ईवन तारीख के हिसाब से गाड़ियां चलती हैं। इसे देखते हुए सार्वजनिक बसों और मेट्रो के फेरों को बढ़ाया गया है।

campaign-burrmaula-hindustan-january-traffic-challan-implementation_6ee24cec-b0ba-11e5-894a-943651415dffImage Source :http://www.hindustantimes.com/

सीएम केजरीवाल के मुताबिक कुछ बातों को परखने के लिए एक बार फिर से इस योजना को 15 दिनों के लिए लागू कर दिया गया है। अब देखना यह होगा कि इस बार इस योजना का असर क्या होता है?

पिछली बार की तरह ही इस बार भी वीआईपी लोगों को छूट मिली है। हालांकि सीएम केजरीवाल ने खुद को और अपनी कैबिनेट को इस छूट से बाहर रखा है। इस योजना के तहत सीएनजी स्टीकर वाली गाड़ियों, कार चला रही महिलाओं, गाड़ी में बैठे दिव्यांग लोगों, मेडिकल इमरजेंसी और उन माता पिता को भी छूट दी गई है जो यूनिफॉर्म पहने अपने बच्चों को स्कूल छोड़ने जा रहे हों। इसके अलावा दूसरे राज्यों से आ रही गाड़ियों पर भी यह फॉर्मूला लागू किया जाएगा।

arvind-kejriwal-5Image Source :http://images.financialexpress.com/

बता दें कि इस आड ईवन फॉर्मूले में ऑड तारीख को ऑड नंबर वाली गाड़ी यानी 1,3,5,7,9 और ईवन तारीख को ईवन नंबर की गाड़ी यानी 0,2,4,6,8 वाली गाड़ी लेकर ही आप दिल्ली की सड़कों पर सफर कर सकते हैं। इसके अलावा यह स्कीम सुबह के 8 बजे से रात के 8 बजे तक ही लागू रहेगी। रविवार को पूरे दिन इस नियम से छूट मिलेगी।

To Top