अनोखा स्थान – यहां हिंदू और मुस्लिम साथ-साथ करते हैं इबादत और पूजा

 

उत्तर प्रदेश बड़ी जनसंख्या का प्रदेश है, यहां ऐसे कई स्थान हैं जहां हिंदू और मुस्लिम लोग साथ-साथ अपनी इबादत और पूजा करते हैं। आज हम आपको एक ऐसे ही स्थान के बारे में यहां बता रहें हैं। जी हां, आज हम आपको बता रहें ऐसे स्थान के बारे में जहां पर अपने सभी मतभेद मिटा कर हिंदू तथा मुस्लिम साथ-साथ एक ही स्थान पर अपने-अपने घर्म के अनुसार इबादत तथा पूजा करते हैं।

वर्तमान समय में सभी धर्मों में ऐसे लोगों की बहुत बड़ी संख्या है जो अपने मन में अन्य धर्मों के लिए बैर भाव रखते हैं। आज राजनीतिक पार्टियां भी धर्म को मुद्दा बना कर इसको भुनाने की कोशिश करती हैं, पर जब कोई अन्य धर्म का व्यक्ति आपका दोस्त बनता है तब आपको समझ आने लगता है कि असल में इंसान में कोई भेद होता ही नहीं है, यह सब अपने मन की और सोच की बात है।

आज हम आपको जिस स्थान से रूबरू कराने जा रहें हैं वह भी एक ऐसा ही स्थान है, जहां हिंदू और मुस्लिम दोनों ही धर्मों के लोग एक ही स्थान पर पूजा करते हैं, आइए अब आपको विस्तार से बताते हैं इस बारे में।

image source:

उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक ऐसी जगह है जहां पर आपको एक ही स्थान पर मंदिर तथा मस्जिद दोनों ही मिलेंगे। यहां की मस्जिद की सफाई का ध्यान हिंदू लोग रखते हैं, तो आरती के समय मस्जिद के ईमाम साहब मंदिर में घंटा बजाने के लिए जरूर पहुंचते हैं। आपको हम बता दें कि कानपुर में यह जगह “टाट मिल चौराहें” पर है।

इस स्थान में एक ही कम्पाउंड में मंदिर तथा मस्जिद स्थित है। यहां पर आजादी के पहले से ही हिंदू तथा मुस्लिम साथ में मिलकर अपने-अपने घर्मानुसार पूजन करते हैं। वर्तमान में भी यह परंपरा जारी है। जिस समय अजान होती है, उस समय मंदिर में पंडित जी आरती का कार्य प्रारम्भ नहीं करते हैं और जब मंदिर में आरती होती है तो मस्जिद के ईमाम साहब मंदिर की आरती में घंटा बजाने के लिए जरूर पहुंचते हैं।

इस प्रकार से देखा जाए तो यह स्थान आज के सभी लोगों को “मिलजुल कर रहने” का संदेश देता दिखाई पड़ रहा है। यह स्थान इस बात को बताता है कि यदि हम सभी लोग आपस में मिलजुल कर रहेंगे तो ना सिर्फ हमारी, बल्कि इस देश की उन्नति भी तेजी से हो सकेगी, वर्तमान में सभी लोगों को इस संदेश से सबक लेना बेहद जरूरी है।

To Top