आखिर सावन के महीने में ही हरी चूड़ियां क्यों पहनती हैं महिलाएं, जानिए इस बारे में..

0
975
सावन

 

सावन के इस महीने में महिलाएं भी हरे रंग की ही चूड़ियां और साड़ी क्यों पहनती है? यदि आप नहीं जानते, तो आज हम आपको इसके बारे में ही जानकारी दे रहें हैं। आपको सबसे पहले हम बता दें कि बीती 10 तारीख से सावन का महीना प्रारंभ हो गया है और इस दौरान अच्छे से बारिश होती है, जिसके कारण चारों और पानी भर जाता है तथा प्रकृति में हरियाली फैल जाती है। सावन के महीने में महिलाओं का श्रृंगार भी चेंज हो जाता है और महिलाएं हरी चूड़ियां तथा हरे कपड़े पहनने लगती हैं, पर बहुत कम लोग ही जानते हैं कि आखिर महिलाएं ऐसा क्यों करती हैं, तो आइये अब हम आपको बताते हैं इस बारे में।

Image Source:

सावन के महीने में हरे रंग के कपड़े तथा चूड़ियों को महिलाएं काफी प्राचीन समय से पहनती आ रही हैं। असल में हरे रंग को सौभाग्य का रंग कहा जाता है और माना जाता है कि सावन के महीने में हरे रंग की चूड़ियां तथा वस्त्र पहनने से जीवन में सौभाग्य का आगमन हो जाता है। भारतीय ज्योतिष शास्त्र भी इस बात को मानता है कि सावन के महीने में हरे रंग का उपयोग व्यक्ति के भाग्य को प्रभावित करता है। ऐसा भी कहा जाता है कि जो व्यक्ति सावन के माह में हरे रंग का उपयोग करता हैं उनसे भगवान शिव प्रसन्न रहते हैं और सावन के माह में जो महिलाएं हरे रंग की चूड़ियों का उपयोग करती हैं उन पर भगवान विष्णु की कृपा होती है। कुछ लोगों का कहना यह भी है कि हरे रंग का उपयोग करने से महिलाओं का भाग्य जागता है तथा उनके सौभाग्य में वृद्धि होती है। कुल मिलाकर सावन के माह में महिलाओं द्वारा हरे रंग का प्रयोग करने के कई कारण हैं जिनमें महिलाओं के लिए लाभ बताया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here