एंबुलेंस में ही दूल्हे ने भर दी दुल्हन की मांग

0
472

उत्तर प्रदेश के जिले मरेठ में एक ऐसी शादी हुई जो अभी तक केवल फिल्मों में ही देखी गई थी। यह शादी आम शादियों की तरह न होकर अस्पताल में हुई। साथ ही इस शादी में सभी मरीज बाराती बनें। इस शादी की सभी रस्में एंबुलेंस में की गईं। दुल्हे का शादी से कुछ ही दिन पहले एक्सीडेंट हो गया था। जिस कारण ही इस शादी का आयोजन अस्पताल में किया गया।

सूरज बड़जात्या की फिल्म विवाह की तर्ज पर एक शादी अस्पताल में ही संपन्न की गई। फिल्म विवाह में हीरोइन हादसे का शिकार हो गई थी, जबकि इस शादी में दूल्हा एक दुर्घटना का शिकार हो गया था। जानकारी के अनुसार मेरठ के सरघना निवासी राहुल का विवाह पास की कुली मानपुरी की एकता से तय हुआ। इनकी शादी 17 फरवरी को होनी तय थी, लेकिन शादी से ठीक पांच दिन पहले राहुल का एक्सीडेंट हो गया। इस दुर्घटना में राहुल के पैर मे फ्रैक्चर हो गया। उपचार के लिए राहुल को मेरठ के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। पैर ठीक करने के लिए राहुल के तीन ऑपरेशन किए गए, लेकिन राहुल का खड़ा हो पाना मुश्किल हो रहा था। वहीं, दूसरी ओर शादी की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी थीं और रिश्तेदार भी घर में पहुंचने लगे थे। ऐसे में घर वालों ने शादी की तारीख को आगे बढ़ाने की न सोचकर एक अजब तरीका ढूंढ़ निकाला। सभी घर वालों ने अस्पताल में ही शादी करने का फैसला किया।

1Image Source: http://www.desktopimages.org/

बस क्या था 17 तारीख आते ही अस्पताल सजना शुरू हो गया। अस्पताल के प्राईवेट वार्ड से अदंर तक फूल सजा दिए गए। धीरे-धीरे अस्पताल में भर्ती राहुल के परिजन भी पहुंचने लगे। अस्पताल में मौजूद सभी मरीज उस समय हैरत में रह गए जब उन्हें पता चला कि पांच दिनों से भर्ती राहुल की शादी होने वाली है। अस्पताल में ही घुड़चढ़ी की रस्म पूरी की गई। फिर राहुल की शादी की अन्य रस्में अस्पताल की एंबुलेंस में की गई। अस्पताल के डॉक्टरों ने राहुल की हालत को देखते हुए एंबुलेंस में ही सभी प्रकार के इलाज की व्यवस्था की थी। एंबुलेंस के अंदर बैठकर ही राहुल ने एकता को वरमाला पहनाई और इसी के अंदर मांग भी भरी। विदाई की रस्म भी अस्पताल में ही पूरी की गई। इस शादी के बारे में जिसने भी सुना वह आश्चर्य में ही रह गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here