सरकारी आदेश – स्कूल फीस के पैसे नहीं हैं तो दीजिए अपनी “बकरी”

0
355

 

स्कूल फीस के रूप में लोग पैसे ही देते हैं पर हाल ही में सरकार ने एक नया नियम निकाला है जिसको जानने के बाद में सभी चकित हैं। जी हां, असल में इस नियम में सरकार ने यह कहा है कि यदि आपके पास में आपके बच्चे की स्कूल फीस के पैसे भरने के लिए पैसे नहीं हैं तो आप अपनी “बकरी” को स्कूल को दे दें। असल में यह नियम नकदी के विकल्प रूप में लागू किया गया है।

Image Source:

आपको हम यह बता दें कि यह अजीबोगरीब नियम भारत सरकार ने नहीं, बल्कि जिम्बाब्वे सरकार ने शुरू किया है। यह नियम जिम्बाब्वे के उन लोगों के लिए सहारा है जो की आर्थिक तौर पर इतने ज्यादा कमजोर हैं कि अपने बच्चों को पढ़ा तक नहीं पा रहें हैं। जिम्बाब्वे के शिक्षा मंत्री ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि “स्कूलों को बच्चों की फीस मांगते समय लचीलापन दिखाना पड़ेगा और स्कूलों को न सिर्फ पालतू पशुओं को स्वीकारना चाहिए, बल्कि बच्चों के अभिभावकों के हुनर का भी उपयोग करना चाहिए।”, जिम्बाब्वे के न्यूज़ पेपर ने इस खबर को प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया था और जिम्बाब्वे की ख़बरों की मानें तो बहुत से स्कूलों ने जिम्बाब्वे सरकार के इस नियम को मानना शुरू कर दिया है। आपको हम यहां यह भी बता दें कि पिछले हफ्ते जिम्बाब्वे सरकार ने लोगों को अपने बैंक के लोन चुकाने के लिए अपनी भेड़, बकरी तथा गाय जैसे जानवर बैंक को देने का फैसला सुनाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here