सलमान की शादी से आधार कार्ड तक, भारतीयों के ये है 5 सबसे बड़े दुःख

सलमान की शादी

आपको बता दें कि कुछ समय पहले यूएन ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि पाकिस्तान के लोग भारत वालों से कहीं ज्यादा खुश रहते हैं। यूएन ने जो लिस्ट जारी की थी। उसमें भारत को पाकिस्तान ही नहीं बल्कि नेपाल तथा भूटान से भी नीचले स्थान पर रखा गया था। इस रिपोर्ट के आने के बाद भारत के लोगों ने बहुत विचार किया कि अपने देश के लोग अन्यों से ज्यादा खुश क्यों नहीं है। आखिर उनको क्या दुःख है। इसके बाद जो रिजल्ट सामने आया है। वह बहुत चौकाने वाले है। आइये जानते हैं देश के लोगों के दुःख की वे 5 सबसे बड़ी वजह जिनके कारण भारतीय लोग दुखी हैं।

1 – सलमान का विवाह

सलमान का विवाहImage source:

सलमान की शादी की खबरें अक्सर आती तो रहती हैं, पर बाद में पता लगता है कि वे सभी झूठी थी। सलमान की उम्र अब दादा बनने की हो गई है, पर वे अभी तक दूल्हा भी नहीं बने हैं। खैर यह बात भारतीयों के लिए बड़े दुःख का कारण बन चुकी। इस कारण भारत के लोगों के दिमाग में तनाव बढ़ा है।

2 – आधार कार्ड

आधार कार्डImage source:

वर्तमान में यह सबसे बड़ी मुसीबत है। आधार को कभी मोबाइल से लिंक काराओं, कभी खाते से तो कभी स्कूल में दिखाओं। हर काम में अब आधार को जोड़ दिया गया है। अपने देश के लोगों को ऐसी आदत है नहीं की वे एक ही काम में लगें रहें, तो भईया आधार भी आज लोगों के जीवन में तनाव का कारण बन चूका है।

3 – मोबाइल नेटवर्क

मोबाइल नेटवर्कImage source:

मोबाइल नेटवर्क भी एक बड़ी समस्या है। कभी माशूका से बात करते हुए तो कभी बॉस की तारीफ के समय अक्सर नेटवर्क चले जाते हैं। कुल मिलाकर लोग मोबाइल नेटवर्क की समस्या से परेशान हैं।

4 – बैंक के पैसा चोर

 बैंक के पैसा चोरImage source:

देखने में आया है कि लोग बैंक के करोड़ों रुपये डकार चुके हैं, पर ये सभी बड़े लोग हैं। माल्या से लेकर नीरव तक सभी का नंबर लगा हुआ है। मगर छोटा आदमी हाथ मलता ही रह जाता है। ऐसे में छोटे व्यक्ति को मौका न मिल पाने के कारण वह मानसिक तनाव में आ गया है।

5 – बैंक के नियम 

बैंक के नियम Image source:

नोटबंदी से पहले सभी का जीवन आराम से चल रहा था। बैंक संबंधी कोई चिंता नहीं थी, लेकिन नोटबंदी के समय से ही बैंकों के नियम बदलने शुरू हो गए। कभी पैसे डालने के नियम तो कभी निकालने के नियम। कुल मिलाकर बैंक में डला हुआ पैसा आदमी के भय का कारण बना हुआ था। अभी भी बहुत से लोग इसी तनाव में रहते हैं कि कहीं बैंक अपने नियम फिर से न बदलने लगे। इस प्रकार से देखा जाएं तो ये 5 समस्याएं ही भारत के लोगों के तनाव का कारण बनी हुई है और इनके शुरू या खत्म होने का कुछ पता भी नहीं है।

To Top