लाल सिंह थे देश के पहले सिक्ख इंडियन क्रिकेटर, जानिये इनके बारे में

लाल सिंह

 

यकीनन आप बहुत से भारतीय क्रिकेटरों के बारे में जानते होंगे, पर क्या आप भारतीय क्रिकेट टीम के पहले सिक्ख खिलाड़ी के बारे में जानते हैं। भारतीय क्रिकेट टीम से जुड़े इस तथ्य के बारे में बहुत कम लोग ही जानते हैं। यही कारण है कि आज हम आपको इस तथ्य से अवगत करा रहें हैं। आपको पता ही होगा कि भारतीय क्रिकेट का इतिहास काफी पुराना है। भारत ने अपना पहला मैच 1932 में खेला था। यह एक टेस्ट मैच था जिसके कप्तान सीके नायडू थे। इनकी कप्तानी में भारतीय टीम इंग्लैंड गई थी और लार्ड्स के मैदान पर यह मैच खेला गया था।

लाल सिंहImage Source:

आपको बता दें कि “लाल सिंह” भी इस टीम का हिस्सा थे और वह पहले भारतीय सिक्ख क्रिकेटर थे। यह एक मात्र टेस्ट क्रिकेट मैच था जिसको लाल सिंह ने अपने जीवन में खेला था। इसके अलावा उन्होंने 32 फर्स्ट क्लास मैच खेले, जिनमें उन्होंने 1123 रन बनाये थे। उनका जन्म मलेशिया में हुआ था। उन्होंने अपने पहले ही मैच में अपनी अच्छी पहचान बना ली थी।

लाल सिंह मैदान पर अपनी बेहतरीन फील्डिंग के लिए काफी फेमस थे। लॉर्ड्स में खेले गए अपने पहले और आखरी मैच में उन्होंने महज आधे घंटे के दौरान ही अपनी थ्रो के से इंग्लैंड के बल्‍लेबाज फ्रैंक वूली को रन आउट कर डाला था। लाल सिंह की इसी फुर्ती को देख इंग्लैंड टीम चौंक उठी थी।

लाल सिंहImage Source:

लाल सिंह के जीवन का यह एकमात्र मैच था। इस मैच को भारतीय टीम हार गई थी। आपको बता दें कि इस मैच में इंग्लैंड की पहली पारी में 259 रन तथा दूसरी पारी में 275 बने थे लेकिन इंडियन टीम पहली पारी में 189 रन बनाकर ऑलआउट हो गई थी और अपनी दूसरी पारी में भी वह केवल 189 रन ही बना पाई। जिसके चलते वह 158 रन से इस मैच को हार गई थी।

To Top