बाप देशभक्त आर्मी ऑफिसर, तो बेटा गद्दार

0
379

एक देशभक्त आर्मी ऑफिसर और उसके बेटे के आईएसआईएस से संबंध, आपको सुनने में यह जरूर एक फिल्म की कहानी लग रही होगी, लेकिन यह कोई कहानी नहीं बल्कि एक ऐसी हकीकत है जिसको सुनकर आप हैरान हो जाएंगे। सोचने पर मजबूर हो जाएंगे कि आखिर इस बेटे के साथ ऐसा क्या हुआ कि जो इसने अपने रिटायर्ड पिता के नाम तक का सम्मान नहीं रखा। आखिर उसके आगे ऐसी क्या मजबूरियां रही होंगी जो उसको आतंकी संगठन आईएसआईएस से जुड़ना पड़ा।

खैर वजह चाहे जो भी हो, लेकिन हकीकत तो यही है कि एक रिटायर्ड आर्मी ऑफिसर के बेटे को पुलिस ने आईएसआईएस से संबंध होने के चलते हिरासत में लिया है। खुफिया एजेंसी की सूचना के अनुसार समीर सरदाना नामक इस शख्स को पुलिस ने गोवा के वास्को से गिरफ्तार किया है। साथ ही समीर के पास से कुछ नक्शे, मोबाइल फोन, लैपटॉप और पांच पासपोर्ट भी बरामद किया है। आपको जानकर हैरानी होगी कि वैसे तो इस 44 साल के शख्स का नाम समीर सरदाना है, लेकिन इसने धर्मांतरण कर इस्लाम धर्म को कुबूल कर लिया है।

वहीं, समीर सरदाना के पिता पूर्व मेजर जनरल केएन सरदाना अपने बेटे पर लगे इन सभी आरोपों को नकार रहे हैं। उनका कहना है कि एटीएस को उनके बेटे के बारे में बहुत बड़ी गलतफहमी है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने उनके बेटे समीर को गलत तरीके से गिरफ्तार कर लिया है। समीर किसी भी तरह का कोई ऐसा गैरकानूनी काम नहीं कर सकता और ना ही वह किसी आतंकी संगठन की हरकतों में शामिल है।

1Image Source: http://media2.intoday.in/

पुलिस के अनुसार दून स्कूल से पढ़ा समीर सरदाना पेशे से चार्टर्ड अकाउंटेंट है और उसका कोई आपराधिक रिकॉर्ड भी नहीं है, लेकिन वह हिन्दू होने के बावजूद इस्लाम धर्म को मानता है। साथ ही उसके पास से कुछ ऐसे मेल्स और डाटा मिले हैं जिनमें हाल में हुए ब्लास्ट की डिटेल्स हैं।

बहरहाल क्या सच है, क्या झूठ यह तो सबके सामने आ ही जाएगा क्योंकि पुलिस इस मामले की जांच के लिए काफी गहनता से जुटी हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here