योगी को सीएम बनाने के लिए मुस्लिम लोगों ने भी इस मंदिर में किया था पूजन कीर्तन

0
377

 

देश में ऐसे कई मंदिर हैं जहां पर हिंदू ही नहीं, बल्कि मुस्लिम लोग भी पूजन कीर्तन आदि करने आते हैं, इसी क्रम में आज हम आपको बता रहें हैं एक ऐसे मंदिर के बारे में जहां पर कई लोगों ने बीजेपी की जीत तथा आदित्य नाथ के मुख्यमंत्री बनने की दुआ के साथ कीर्तन तथा पूजन किया था। जी हां, आज हम आपको एक ऐसे मंदिर के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं, जहां पर पुरुषों तथा स्त्रियों ने योगी को सीएम बनाने के लिए सामूहिक पूजन तथा कीर्तन किया था, तो आइए जानते हैं इस खबर के बारे में विस्तार से।

 

image source:

वैसे तो अपने देश में हिंदू तथा मुस्लिम लोगों की मानसिकता में बड़ा फांसला दिखता है, पर देश में एक मानसिकता ऐसी भी है जिससे जुड़ने के बाद लोग सभी प्रकार के भेदभाव भूलकर सभी कार्य साथ में करते हैं चाहें वह धार्मिक कार्य हो या सामाजिक कार्य। इसी प्रकार की मानसिकता रखने वाले मुस्लिम समुदाय के काफी स्त्री पुरुषों ने आदित्यनाथ योगी को उत्तर प्रदेश के सीएम बनने के लिए सामूहिक रूप से एक मंदिर में पूजन कीर्तन किया था।

आज हम आपको इस मंदिर के बारे में ही जानकारी दे रहें हैं। आपको बता दें कि यह मंदिर उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में स्थित है तथा इस मंदिर का नाम “सिद्ध पीठ मां काली मंदिर” है। वर्तमान में आदित्यनाथ हालांकि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं, पर जब बीजेपी में मुख्यमंत्री के चुनाव के लिए विचार चल रहा था, उस समय इस मंदिर में एक बहुत ही चकित कर देने वाला नजारा देखने को मिला।

असल में उस समय इस मंदिर में मुस्लिम समुदाय के बहुत के लोग आए जिनमें काफी संख्या में महिलाएं भी थी और उन लोगों ने इस मंदिर में योगी के भावी सीएम होने की दुआ की तथा साथ ही यहां यज्ञ एवं कीर्तन भी किया। इस प्रोग्राम में काफी हिंदू लोग भी मुस्लिम समुदाय के लोगों के साथ थे।

असल बात यह है कि आदित्यनाथ ने गोरखपुर में विकास कार्यों के साथ चिकित्सा तथा पढ़ाई के क्षेत्र में भी काफी कार्य किये हैं, जिनका लाभ वहां के हिन्दू तथा मुस्लिम दोनों ही लोग सामान रूप से उठाते आ रहें हैं, इसलिए गोरखपुर में आदित्यनाथ को दोनों ही समुदायों का भारी जनादेश और प्रेम मिला हुआ है और इसी कारण इस मंदिर में हिंदू तथा मुस्लिम लोगों ने साथ में पूजन कीर्तन कर आपसी भाई चारे की मिसाल कायम की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here