चलती ट्रेन में डिलिवरी, पटरी पर गिरकर भी बच गई मासूम

0
365

कहते हैं ना…‘जाको राखे साईयां, मार सके ना कोई’ इस बात को बरेली में हुए एक चमत्कार ने साबित कर दिया है। बता दें की बरेली जिले में ट्रेन के शौचालय में जन्मी एक बच्ची टॉयलेट सीट के पाइप के रास्ते पटरी के पास जा गिरी थी। लेकिन उसे एक खरोंच तक नहीं आयी। हालांकि ट्रेन को रकवाकर बच्ची को सुरक्षित उसकी मां को सौंप दिया गया है।

baby-girl-born-in-the-toilet-of-a-moving-indian trainImage Source: https://upload.wikimedia.org

पुलिस अधीक्षक बृजेश श्रीवास्तव का कहना है कि नेपाल के कंचनपुर निवासी पुष्पा कल आंखों के इलाज के लिये बरेली आ रही थी। वह अकेली ही टनकपुर-बरेली पैसेंजर ट्रेन में सवार थी। ट्रेन जब बरेली के भोजीपुरा रेलवे स्टेशन पर रकी तो पुष्पा को प्रसव पीड़ा शुरू हो गयी। उन्होंने बताया कि दर्द उठने पर पुष्पा बोगी में स्थित शौचालय में गयी, वहीं उसने एक बच्ची को जन्म दिया लेकिन वह बच्ची टॉयलेट सीट के पाइप के रास्ते नीचे पटरी के पास गिर गयी। इसी बीच, ट्रेन चल पड़ी। जिसके बाद नवजात शिशु के रोने की आवाज सुनकर प्लेटफार्म पर मौजूद लोगों ने शोर मचाया। जिसे सुनकर कुछ यात्रियों ने जंजीर खींचकर रेलगाड़ी को रूकवाया। इस बीच, कुछ लोगों ने बच्ची को रेलवे ट्रैक से उठाया।

बहरहाल बताया जा रहा है की सूचना मिलने पर राजकीय रेलवे पुलिस के कांस्टेबल नकुल कुमार और जीआरपी थाने के मुंशी ऋषिपाल सिंह ने एम्बुलेंस मंगवाई और जच्चा-बच्चा को भोजीपुरा स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भेजा। वहीं स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी डाक्टर सौरभ का कहना है की पुष्पा और उसकी बेटी बिल्कुल स्वस्थ हैं। बच्ची को खरोंच तक भी नहीं आयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here