आतंकवाद के खिलाफ अब वक्त और जगह हम तय करेंगे- रक्षा मंत्री

नए साल में पूरे देश को हिलाकर रख देने वाले पठानकोट के एयरफोर्स बेस पर हुए आतंकवादी हमले को लेकर प्रधानमंत्री के बाद अब रक्षामंत्री ने भी कठोरता का रुख अपना लिया है। आर्मी-डे सेलिब्रेशन के मौके पर इशारों-इशारों में रक्षामंत्री मनोहर पार्रिकर ने चेतावनी देते हुए कहा कि जो कोई भी शख्स या संगठन भारत को दर्द देने की सोचेगा उस उसी तरह का भुगतान भी किया जाएगा।

रक्षा मंत्री ने कहा कि, “जिन्होंने हमें या हमारे देश को नुकसान पहुंचाया है उन्हें भी उस दर्द को महसूस कराना होगा, लेकिन उसके लिए वक्त और जगह अब हम तय करेंगे।” पार्रिकर ने इस मौके पर कहा कि इतिहास इस बात का गवाह है कि जो लोग आपको नुकसान पहुंचा रहे हैं, वह तब तक नहीं बदलते जब तक कि उनको खुद इस दर्द का अहसास ना हो।

pathankot attackImage Source:

जैसा कि आप सबको अच्छे से पता है कि इस हमले में भारत के सात वीर सपूत शहीद हो गए थे और 20 जवान घायल हुए थे। 60 घंटे से ज्यादा तक यह ऑपरेशन पठानकोट में चला था। जिसमें सरकार को काफी फजीहत भी उठानी पड़ी थी। हालांकि बाद में सरकार ने माना था कि ऑपरेशन पठानकोट में कुछ चूक हुई थी।

भारत ने बहरहाल पाक के सामने सख्त रुख अपना लिया है। भारत ने इस हमले में शामिल आतंकवादियों पर पाक को कड़ी कार्रवाई करने को भी कहा है। जिसके चलते एनएसए अजीत डोभाल ने पाक अधिकारियों को आतंकियों से जुड़े सारे सबूत भी दे दिए हैं। भारत ने इस मामले पर साफ कर दिया है कि तब तक भारत-पाक वार्ता नहीं हो सकती, जब तक पाकिस्तान इस मामले पर कड़ी कार्रवाई नहीं कर लेता। भारत ने इस हमले को लेकर दावा किया है कि हमले को पाक में स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने अंजाम दिया था।

बता दें कि भारत द्वारा पाक को सौंपे गए सबूतों में हमले से जुड़े उन फोन कॉलों की रिकॉर्डिंग भी है, जो आतंकवादियों ने पाकिस्तान में बैठे हैंडलरों से की थी। इसके अलावा भारत ने आतंकवादियों से बरामद किए गए हथियार और गोला-बारूद भी पाक को दिए हैं जो कि पाकिस्तान में ही बने हुए पाए गए हैं।

To Top