भारत और चीन से नौकरियां वापस अमेरिका लाएंगे डोनाल्ड ट्रंप

पूरी दुनिया में भारतीयों ने अपने हुनर का लोहा मनवाया है। इसी वजह से भारतीयों की मांग बाहरी देशों में बढ़ रही है। वहां की कंपनियां भारतीयों को नौकरी देना चाहती हैं। सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि चीन भी इस दौड़ में काफी आगे है। इसी वजह से अमेरिका में भारतीय और चीन मूल के काफी लोगों को नौकरियां मिली हुई हैं। शायद इसी बात से परेशान हो कर अमेरिका के वॉशिंगटन में रिपब्लिकन पार्टी के राष्ट्रपति पद के उमीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वह भारत और चीन से नौकरियां वापस लेंगे।

ट्रंप के अनुसार यह दोनों देश अमेरिकियों से उनकी नौकरियां छीन रहे हैं। एक साक्षात्कार में उन्होंने कहा कि उनके ऐसा करने से उन्हें हिस्पैनिक्स के निवासियों का समर्थन मिलने में आसानी होगी। वह हिस्पैनिक्स से जीतने जा रहे हैं। वह कई जगहों से नौकरियां वापस लाएंगे जिनमें भारत और चीन भी शामिल हैं। ट्रंप राष्ट्रपति पद की दावेदारी में आगे चल रहे हैं।
हालांकि जब उनसे पूछा गया कि भारत और चीन से वह नौकरियां कैसे वापस लाएंगे, तो उन्होंने कोई निश्चित नीति के बारे में नहीं बताया।

To Top