यहां दूल्हा बनने पर पीना पड़ता है जानवरों का खून

0
526

आपने शादी से जुड़ी कई अजीबो गरीब रस्मों और परंपराओं के बारे में सुना और पढ़ा होगा, लेकिन क्या आपने कभी ऐसी परंपरा के बारे में सुना है कि दूल्हा बनने के लिए लड़के को किसी जानवर का खून पीना होता है, नहीं ना। तो आपको बता दें कि मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ ऐसी जगहें हैं जहां पर आदिवासी जनजाति में आज भी इस खून पीने की परंपरा को जारी रखा गया है। इस जनजाति का नाम गौंड है। यह रस्म काफी अटपटी है, लेकिन इसका पालन पूरी जनजाति करती है।

A groom forced to drink animal blood here1Image Source:

बता दें कि दूल्हा दुल्हन की शादी को तभी माना जाता है जब दूल्हा किसी जानवर का खून पीता है। इस परंपरा के मुताबिक दूल्हा पक्ष बारात में एक सुअर को लेकर आते हैं और आखिर में दूल्हे को सुअर को मारकर उसका खून पीना होता है। अगर लड़का ऐसा करने से मना कर दे तो शादी को तभी तोड़ दिया जाता है।

A groom forced to drink animal blood here2Image Source:

इस अजीबो गरीब रस्म का सामना आखिर कौन करना चाहेगा, लेकिन गौंड जनजाति के लोगों को आज भी इसका पालन करना होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here