घोड़ी की जगह साइकिलों पर सवार हुए 258 दूल्हे, जानिए क्यों

शादियां आपने काफी देखी ही होंगीं, हर शादी में दूल्हा घोड़ी पर ही सवार होता है, पर हालही में हुए एक शादी समारोह में 258 दूल्हों की एक साथ शादियां हुई, पर इनमें से कोई भी घोड़ी पर सवार नहीं हुआ, बल्कि सभी लोग साइकिलों पर सवार हुए, इस नजारे को देखकर सभी लोग चकित थे। आइए हम आपको बताते हैं कि ये सभी दूल्हें घोड़ी के बदले साइकिलों पर क्यों सवार हुए, असल में ये सभी दूल्हें अपनी ही मर्जी से साइकिल पर सवार हुए थे, क्योंकि इनका मकसद लोगों को प्रदूषण के प्रति जागरूक करना था, आइए जानते हैं इस पूरे मामले को।

258-grooms-in-surat-will-use-cycles1Image Source:

यह मामला भारत के गुजरात राज्य का है, यहां पर पटेल समाज के लोगों का सामूहिक विवाह उत्सव था, जिसमें 258 लोगों की शादियां कराई गई थी, पर इसमें सबसे खास बात यह थी कि इस शादी समारोह में आए सभी दूल्हें घुड़चढ़ी की रस्म के दौरान घोड़ी पर नहीं बैठे, बल्कि सभी लोग एक साथ साइकिल पर बैठ कर शहर में निकले, इन सभी दूल्हों को देख कर सभी लोग चकित थे। गुजरात के एक न्यूज़ पेपर ने इस घटना का खुलासा करते हुए लिखा है कि ” साइकिलों पर सवार ये दूल्हे शहर में बढ़ते ट्रैफिक प्रदूषण को रोकने और विवाह समारोह में बैंड और आतिशबाजी के जरिए होने वाले ध्वनि और वायु प्रदूषण को रोकने का संदेश दे रहे थे।”, इन सभी दूल्हों ने साइकिल पर अपनी बारात निकाली और दिल्ली के प्रदूषण से शिक्षा लेते हुए अपने शहर के लोगों से भी प्रदूषण कम करने की गुजारिश की।

To Top