_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2018/02/","Post":"http://wahgazab.com/shaheed-jaswant-singh-rawat-the-brave-soldier-who-killed-300-chinese-soldiers-alone/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/this-monkey-is-the-owner-of-million-dollar-property-lives-a-luxury-life/mok-2/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Oembed_cache":"http://wahgazab.com/38edcdf172ca4efbca56add1f895924c/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

अनोखी है ये हनुमानजी की मूर्ति

अक्सर हम जब भी मंदिरों में प्रसाद चढ़ाते हैं तो अधिकतर हमारा चढ़ावा बर्बाद होता दिखता है। मंदिरों के बाहर कहीं दूध बह रहा होता है, तो कहीं नारियल का पानी। गुजरात के अहमदाबद जिले में एक ऐसा अनोखा सारंगपुर हनुमान मंदिर है जहां नारियल चढ़ाने के बाद नारियल टूट कर अपने आप बाहर आ जाता है। इसका फायदा यह होता है कि इससे मंदिर में गंदगी नहीं होती और चढ़ावा बर्बाद भी नहीं होता है। दरअसल हनुमानजी की मूर्ति के अंदर एक मशीन लगाई हुई है जिसकी मदद से नारियल के दो टुकड़े हो जाते हैं और वह मूर्ती के हाथ से बाहर आ जाते हैं। इससे गंदगी से तो मंदिर बचता ही है साथ ही यह श्रद्धालुओं के लिए आकर्षण का केंद्र भी बना हुआ है।

Video Source: https://www.youtube.com/

Most Popular

To Top