जानें अघोरी बाबा क्यों खाते हैं इंसानी मांस और खून

हमें अक्सर अपने आस-पास कई बाबा दिखाई देते हैं। इन बाबाओं में से कोई तो जाना-माना होता है और कोई लोगों को ठगने के लिए घूमते रहते हैं। इन्हीं बाबाओं की लिस्ट में एक नाम अघोरी बाबा का भी है। अघोरी बाबा का नाम लेते ही हमारी आंखों के सामने एक डरावनी सी तस्वीर आ जाती है, लेकिन इस बात को शायद आप नहीं जानते होंगे कि जितने डरावने यह दिखते हैं, उतनी ही डरावनी इनकी आदतें और हरकतें भी होती हैं। इतिहास के मुताबिक करीब 1000 साल पहले वाराणसी में अघोरियों का जन्म हुआ था, लेकिन तब से अब तक इनकी संख्या काफी कम हो गई है।

Why aghori sadhus eat human flesh1Image Source:

आइए आपको अघोरी बाबाओं से जुड़ी कुछ ऐसी ही बातें बताते हैं-

1. अघोरी बाबा श्मशान घाट और तंत्र मंत्र में अपना सारा जीवन व्यतीत करते हैं।

2. अघोरी बाबा कभी भी मांस खाने से पीछे नहीं हटते, वह इंसानी मांस भी खाने को तैयार हो जाते हैं।

3. अघोरी बाबाओं की पूजा कभी भी बिना शराब और गांजे के नहीं होती है।

Why aghori sadhus eat human flesh2Image Source:

4. ऐसी मान्यता है कि अघोरी बाबा जिसको आशीर्वाद देते हैं, वह इंसान सदा सुखी रहता है।

5. अघोरी शवों का इस्तेमाल अपनी तंत्र मंत्र की पूजा में करते हैं।

6. यह बाबा हमेशा अपने शरीर में धूल मिट्टी लगाकर चलते हैं।

7. अघोरी बाबा ऐसे तो किसी से कोई मतलब नहीं रखते हैं, लेकिन अगर एक बार वह किसी के पीछे पड़ जाते हैं तो वह पीछे नहीं हटते हैं।

8. अघोरी बाबा इंसान की खोपड़ी में खून पीना पसंद करते हैं, इसी के साथ इन्हें जानवरों का सिर खाना भी बेहद पसंद होता है।

9. ऐसा माना जाता है कि अघोरी बाबाओं को भविष्य देखने आता है।

10. अघोरी बाबा कपड़े के नाम पर शरीर पर सिर्फ एक लंगोट डालते हैं।

Why aghori sadhus eat human flesh3Image Source:
To Top