_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2018/01/","Post":"http://wahgazab.com/cobra-hid-in-boots-people-got-frightened/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/?attachment_id=45050","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

यहां 99 प्रतिशत लड़कियां करती हैं देह व्यापार, जानें इस जगह के बारे में

देह व्यापार

 

हमारे देश में वैसे तो बहुत से ऐसे स्थान हैं जहां देह व्यापार का काम होता हैं, पर देश में एक जगह ऐसी भी हैं जहां की 99 प्रतिशत लड़कियां देह व्यापार करती हैं। जी हां, आज हम आपको उस स्थान के बारे में बताने जा रहें हैं जहां पर सर्वाधिक संख्या में लड़कियां देह व्यापार से जुड़ी हैं। अपने देश में लड़कियों की संख्या लड़कों से कम हैं।

इस बात को आप जानते ही होंगे, पर यहां एक स्थान ऐसा भी हैं जहां की लड़कियां न सिर्फ ज्यादा संख्या में हैं बल्कि वे अपने घर का खर्च भी स्वयं ही चलाती हैं। असल में ये लड़कियां देह व्यापार से अपने जीवन का खर्च चलाती हैं। यहां लड़कियों के लिए देह व्यापार महज एक व्यापार ही हैं।

देह व्यापारImage Source:

आपको जानकर हैरानी होगी की इस कार्य के लिए इन लड़कियों के घर वाले खुद ही इन्हें भेजते हैं। यहां पर घर का खर्च चलाने की जिम्मेदारी घर की बड़ी लड़की की होती हैं। आपको बता दें कि यह कहानी हैं मध्य प्रदेश के कुछ गावों की। जहां की लड़कियां इस काम को करती हैं। आपने मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले का नाम तो सुना ही होगा। यह जिला अफीम की खेती के लिए प्रसिद्ध हैं, पर एक और बात है जो इस जिले को फेमस करती हैं और वह हैं यहां का देह व्यापार का बाजार।

देह व्यापारImage Source:

इस जिले में बांछड़ा समाज के बहुत से लोग निवास करते हैं और उनका पेशा देह व्यापार ही हैं। इसके अलावा रतलाम तथा नीमच के करीब 75 गावों में बांछड़ा समाज के लोग रहते हैं और इनकी जनसँख्या 23 हजार के लगभग हैं। इस जनसंख्या में सबसे ज्यादा महिलायें हैं। जब भी किसी के घर लड़की पैदा होती हैं तो घर में ढोल बाजे बजाकर ख़ुशी मनाई जाती हैं। इस समाज में घर की बड़ी लड़की को पैसा कमाने के लिए उत्साहित किया जाता हैं और देह व्यापार में ख़ुशी से उतारा जाता हैं।

महज 12 से 14 वर्ष की लड़की देह का व्यापार करने लगती हैं। इन लड़कियों के कमाये पैसे से ही घर का खर्च चलता हैं। भारत जैसे देश में कुछ ऐसे क्षेत्र हैं जहां पर आज भी ये सब किया जाता हैं। एक और जहां भारत को डिजिटल बनाने की बात चल रही हैं वहीं कुछ लोग अपने मूल अधिकारों से भी वंचित हैं। जरुरत हैं कि सरकार को इस और भी कुछ ध्यान देना चाहिए।

Most Popular

To Top