अनलिमिटेड गोलगप्पे का महा ऑफर देकर सोशल मिडिया में छा गया JIO पानी पूरी वाला

JIO पानी पूरी

रिलायंस जियो के अनलिमिटेड फ्री कॉलिंग और सस्ते प्लान ने आज पूरे देश में तहलका मचा दिया है। जिसके कारण आज के समय में ज्यादातर लोग इसी प्लान का उपयोग करते दिख रहे है। अब तो लोगों की जुबान पर जियों ऐसा छा रहा है कि पैदा होते बच्चे का नाम भी जियों रखना ज्यादा पसंद कर रहे है। पर इन दिनों रिलायंस जियो को बाद एक दूसरा जियो भी अपने दिये ऑफर से ज्यादा मशहूर हो रहा है। जिसके चर्चे अब उज्जैन की हर गलियों में देखने व सुनने को मिल सकते है।

उज्जैन की गलियों में मशहूर होने वाला यह प्लान कॉलिंग या ब्राउजिंग का नहीं, बल्कि गोलगप्पे का है। जी हां इस स्टाल में दो ऐसे बड़े ऑफर रखें गए है कि आप दो में से किसी भी एक ऑफर को चुनकर अनलिमिटेड गोलगप्पे खा सकते हैं। इतना ही नही इसके अलावा आपको मंथली पैक चुनने का भी ऑफर इसमें दिया जा रहा है।

रिलायंस जियो के अनलिमिटेड प्लान से प्रेरित होकर म.प्र. के उज्जैन में रहने वाले धर्मेंद्र नें इस गोलगप्पे बेचने वाले रवि जगदंबा ने ये प्लान शुरू किया है, जिसके तहत आप मात्र 100 रुपए देकर एक दिन में जितने मर्जी चाहे उतने गोलगप्पे खा सकते हैं।

JIO पानी पूरी

स्कीम की शुरूआत जियों के प्लान को देखकर की है। एक ओर जहां आप 10 रूपए के 6 गोलगप्पे खाते हैं। वहीं धर्मेंद्र के स्टॉल से रुपए देकर आप तीन घंटे में अनलिमिटेड गोलगप्पे खा सकते हैं। इसके अलावा दूसरे प्लान के तहत आप 2000 रुपए देकर मंथली पैक भी बनवा सकते है। इस प्लान में 1 महिनें तक शाम 6-9 बजे के बीच आप अनलिमिटेड गोलगप्पे खा सकते हैं।

धर्मेंद्र बताते हैं इस ऑफर को पाने के बाद से ग्राहक काफी बढ़े हैं जिसमें लोग इस ऑफर को लेने के बाद अधिकतर लोग 30-35 गोलगप्पे हीं खा पाते है। कुछ ही लोग है जो 50 के पार पहुंच पाते हैं 100 के पार लेने वाले बहुत कम लोग ही होते हैं अब हमारे इस स्टॉल में ज्यादा गोलगप्पे खाने को लेकर होड़ लगी रहती है। कई लोग पैसे वसूल करने के चक्कर में या फिर एक बेहतरीन रिकॉर्ड बनाने के लालच में गोलगप्पे बर्बाद भी कर देते हैं।

मुकेश अंबानी हैं आदर्श –

मुकेश अंबानी हैं आदर्श

धर्मेंद्र, दुनिया के जाने मानें बिजनेसमैन मुकेश अंबानी को अपना आदर्श मानते हैं। जियों के खास प्लान से प्रेरित होकर ही इन्होनें अपने स्टॉल का नाम भी जियो  से रखा है। और आज अंबानी के कारण ही बिजनेस दोबारा रफ़्तार पकड़ रहा है।जियो नाम के उपयोग को लेकर धर्मेंद्र बताते हैं- हम उनके नाम का कोई गलत इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं। यदि जियो को हमारे नाम से कभी कोई दिक्क्त होगी तो नाम बदलकर ‘पियो पानी बतासे’ कर देंगे।

To Top