_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/02/","Post":"http://wahgazab.com/these-new-faces-in-ipl-auctioned-for-2-crores/","Page":"http://wahgazab.com/addd/","Attachment":"http://wahgazab.com/these-new-faces-in-ipl-auctioned-for-2-crores/nattu-3/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/28118/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=154","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

धरती पर दिखा अनोखा सागर, जिसका कोई किनारा ही नहीं

अगर देखा जाए तो हमारे आस-पास कोई ना कोई ऐसी आजीबो-गरीब चीजे देखने को मिल ही जाती है जो हमारे लिए एक आश्चर्य का विषय खड़ा कर देती है। जैसा कि आज हम एक अजूबे के बारे में आपको परिचित करा है, यह अजूबा बना है एक सागर, जिसके बारे में कहा जाता है कि अथाह जल से भरपूर इस सागर का कोई किनारा ही नहीं है। इस सागर के चारों ओर कहीं जमीन ही नहीं है इसमें दूर तक सिर्फ पानी ही पानी नजर आता है।

sea-land1Image Source:

जी हां, बिना किसी किनारे वाला यह सारगासो सागर अटलांटिक महासागर में का ही हिस्सा है, जो दुनिया का एक मात्र ऐसा सागर है, जिसका कोई किनारा नहीं है। भौगोलिक क्षेत्र के आधार पर इस सागर में इतना अथाह पानी है कि इसका पानी भी जमीन को नहीं छू पाता।

आपको जानकारी दें कि ये वही समुद्री क्षेत्र में फैला सागर है जहां से कितने हवाई जहाज अपने आप गायब हो चुके है। इसे त्रिकोणीय समुद्री क्षेत्र या बरमूडा ट्रायंगल के नाम से भी जाना जाता है, पर अब इस गुमनाम पहेली के रहस्य को सुलझा लिया गया है। जिसके कारण इस सागर के पास जाना खतरे से खाली नहीं है।

इस क्षेत्र में चारों ओर पानी होने के कारण यहां पर जमीन नहीं मिलती। इसके बावजूद भी यहां बड़ी मात्रा में सारगासो नामक घास पैदा होती है। सारगासो होने के कारण ही इस सागर का नाम सारगासो सागर रखा गया है। इस सागर के पानी की सतह पर घास जमने की जगह तैरते हुए नजर आते है और यही घास जल में रहने वाले जीवों की सबसे बड़ी खाद्य संपदा है। इस घास में छिपकर ही छोटे-छोटे जीव जंतु अपनी सुरक्षा बड़े से जीवों से करते है। यहां का वातावरण काफी ठंडा होता है, पर सागर का पानी हमेशा गर्म ही रहता है।

Most Popular

To Top