उत्तर प्रदेश के इस शख्स पर नहीं होता करंट का असर, अपनी भूख मिटाने के लिए लेता है शॉक

naresh kumar from muzzaffarnagar claims he is a human light bulb

आपको पता ही होगा कि बिजली का करंट लगते ही किसी भी व्यक्ति की चीख निकल जाती है, पर हाल ही में एक ऐसा व्यक्ति सामने आया है जिसको बिजली के करंट का कोई असर नहीं होता है, बल्कि वह करंट का उपयोग अपनी भूख मिटाने के लिए करता है। जी हां, इस शख्स की यही बात सभी को हैरान करती है कि यह अपनी भूख मिटाने के लिए बिजली के शॉक लेता है।

वैसे देखने में यह शख्स एक आम आदमी ही है, पर इसकी यह खूबी इसको खास बनाती है। वैसे तो बिजली के करंट का महज एक झटका किसी भी शख्स के लिए जानलेवा साबित हो जाता है, पर आज हम आपको जिस शख्स के बारे में बता रहें हैं उस शख्स के लिए बिजली ही उसका भोजन है।

naresh kumar from muzzaffarnagar claims he is a human light bulbcoverimage source:

बिजली के शॉक लेने वाला यह शख्स उत्तर प्रदेश के मुज्जफरनगर का नरेश कुमार है। नरेश कुमार बिजली के किसी भी कार्य को बड़ी आसानी से नंगे पांव ही पूरा कर लेते हैं। इन पर बिजली के करंट का कोई असर नहीं होता है। नरेश बताते हैं कि जब कभी इनको भूख लगती है तो बिजली के करंट का महज एक शॉक लेने से इनकी भूख खत्म हो जाती है।

इस प्रकार से देखा जाएं तो बिजली का करंट इस व्यक्ति के लिए भोजन का कार्य करता है। नरेश की पत्नी ‘शरमिष्ठा’ का कहना है कि हमारे घर में लाइट के लिए स्विच नहीं है। मेरे पति को बिजली को हाथ से पकड़ने का जुनून सवार है, यह बिजली का कोई भी कार्य नंगे हाथों से ही कर लेते हैं।

नरेश के इस कार्य को देखकर मुज्जफरनगर के सभी लोग हैरान है तथा इनके घर के लोग भी इनके किए सभी कार्यों के प्रति हैरानी जताते हैं। नरेश बताते हैं उन पर बिजली के करंट का कोई असर नहीं होता है, उल्टा बिजली के शॉक लेने से उनकी भूख मिट जाती है और उनको अच्छा लगता है।

अब इस प्रकार के शख्स के बारे में क्या कहा जाए यह तो समझ नहीं आता है, पर इतना जरूर है कि हमारे शरीर के अंदर कुछ ऐसी चीजें अवश्य हैं जिनकी अभी तक खोज नहीं हुई है। यदि खोज हो सके तो नरेश कुमार जैसे लोगों के केस को सुलझा कर समझा जा सकता है।

video source:

To Top