इस गांव में शादी के बाद सारे गांव के सामने मनानी पड़ती है फर्स्ट नाईट

फर्स्ट नाईट

 

देश की जिस परंपरा के बारे में आज हम आपको बताने जा रहें हैं। वह अपने आप में बेहद हैरान कर देने वाली है। देखा जाएं तो अन्य देशों में भी कई तरह की परम्पराएं होती हैं, पर भारत में जितनी परम्पराएं होती हैं उतनी तो शायद दुनिया के किसी अन्य देश में नहीं होती हैं। हमारा देश आज दुनिया के विकसित देशों के साथ खड़ा है। मगर देश के हिस्सो में कुछ ऐसी परम्पराओं का पालन किया जाता हैं जो देश के समाज पर एक धब्बे की तरह हैं। इन सभी प्रथाओं और परम्पराओं में महिलायों तथा लड़कियों का सबसे ज्यादा शोषण होता हैं जबकि पुरुष आसानी से इन सब से बच जाते हैं।

सब के सामने फर्स्ट नाईट मानाने की प्रथा

सब के सामने फर्स्ट नाईट मानाने की प्रथाImage source:

आज हम आपको जिस प्रथा के बारे में बता रहें हैं उसको जानकर आप दंग रह जायेंगे। भारत में शादी के बाद दूल्हे-दुल्हन की फर्स्ट नाईट को सबसे अहम माना जाता है। सामान्य तौर पर फर्स्ट नाईट पर विवाहित जोड़े को बिल्कुल अकेले छोड़ दिया जाता है। वहीं दूसरी और देश में एक ऐसा समुदाय भी है जहां पर नवविवाहित कपल को सारे गांव के सामने अपनी फर्स्ट नाईट मानानी पड़ती है। इस समुदाय का नाम “कंजरभाट” है। इस समुदाय में जब किसी लड़के की शादी होती है तो उसकी फर्स्ट नाईट पर पूरा गांव कपल के रूम के बाहर ही खड़ा रहता है।

इसलिए की जाती है यह परंपरा

इसलिए की जाती है यह परंपराImage source:

आपको जानकर हैरानी होगी कि कंजरभाट समुदाय के लोग लड़के की फर्स्ट नाईट पर उसके कमरे के बाहर इसलिए मजमा लगाए रहते हैं क्योंकि वे देखना चाहते हैं की लड़की वर्जिन है अथवा नहीं। मतलब समुदाय में विवाह की पहली रात को दुल्हन का कौमार्य जांचा जाता है। यही कारण है कि कपल के रूम के सामने सारा गांव रात भर खड़ा रहता है। अब यदि लड़की वर्जिन निकली तब तो सही है अन्यथा उसके साथ बहुत बुरा बर्ताव किया जाता है। हालांकि इस समाज में काफी लोग पढ़ें लिखे भी हैं, पर फिर भी यह परंपरा पुराने समय से चली आ रही है।

To Top