_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/12/","Post":"http://wahgazab.com/one-of-the-top-5-south-indian-movie-that-earns-a-lot-of-fortune/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/?attachment_id=43757","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

नासा ने खोजा नया ग्रह, यहां 7 घंटे में ही खत्म हो जाता हैं पूरा साल

नासा

 

हमारे ग्रह पर एक वर्ष पूर्ण होने में पूरे 365 दिन का समय लगता हैं इन 365 दिनों में हमारी धरती सूरज का चक्कर पूरा करती हैं। इस पूरे वर्ष के दौरान हमे गर्मी, सर्दी, बसंत, बहार आदि सभी मौसमों का अनुभव होता हैं। आपको बता दें कि हालही में नासा के केपलर टेलीस्कोप ने एक नए ग्रह की खोज की हैं। इस ग्रह का नाम “EPIC 246393474 b” हैं। इसके Orbital period को जानकर आप हैरान रह जायेंगे। आपको बता दें कि इस ग्रह पर एक वर्ष महज 7 घंटे का ही होता हैं। यहां का Orbital period महज 6.7 घंटे का ही होता हैं।

नासाImage Source:

आपको दें कि केपलर टेलीस्कोप अभी तक 2300 नए ग्रहों को खोज चुका हैं। इस ग्रह से जड़ी प्रकाशित की गई एक रिपोर्ट के अनुसार “यह ग्रह धरती से लगभग 5 गुना बड़ा हैं। यहां आयरन की मात्रा करीब 70 प्रतिशत तक हैं। इस अनोखे ग्रह का Equilibrium तापमान 2039 K हैं और इतना होने के बाद भी यह नष्ट नहीं हुआ हैं। इसका कारण यह हैं कि यह अपने तारे के सबसे नजदीक हैं। इस ग्रह के बारे में अभी तक वैज्ञानिक यह पता नहीं लगा पाए कि यहां पर दिन आखिर कितने समय का होगा। इसके लिए वे धरती के “डे-टू-इयर रेशियो” का उपयोग कर रहें हैं। अब आने समय में इस ग्रह को लेकर अन्य कई बातें खुल सकती हैं।

Most Popular

To Top