जानें भारत की मैग्नेटिक हिल के बारे में, यहां बंद गाड़ी भी खुद पहाड़ पर चढ़ती है

Know about the magnetic hill of India, where the cars climb mountain without powering the engine cover

भारत की इस जगह के बारे में शायद आप नहीं जानते होंगे जहां पर गाड़ी बंद होने के बाद भी अपने आप पहाड़ पर चढ़ने लगती है। यही बात इस जगह की खूबी है और इसी कारण यह स्थान लोगों को हमेशा हैरान करता आ रहा है। इस स्थान को “मैग्नेटिक हिल” के नाम से जाता है। इस स्थान पर जो एक बार आ जाता है वह हैरान रह ही जाता है। आज भी यह स्थान लोगों को दांतो तले अंगुली दबाने को मजबूर कर देता है।

खुद चढ़ने लगती है गाड़ी –

Know about the magnetic hill of India, where the cars climb mountain without powering the engineimage source:

इस स्थान की खासियत यही है कि यहां पहुंचने पर गाड़ी अपने आप ही पहाड़ी पर चढ़ने लगती है। हालांकि इस स्थान पर खड़ी चढ़ाई है लेकिन फिर भी गाड़ी खुद ही आगे बढ़ती जाती है। यह स्थान मनाली-लेह मार्ग पर है और समुद्र तल से करीब 14 हजार फिट की ऊंचाई पर स्थित है। इस रास्ते पर एक मैग्नेटिक हिल है। यहां से आपकी गाड़ी खुद ही आगे बढ़ने लगती है। यदि आपकी गाड़ी का इंजन बंद भी हो तो भी आपकी गाड़ी करीब 20 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आगे की ओर बढ़ने लगती है।

इस स्थान पर रास्ते में आपको चेतावनी देते बोर्ड भी लगे दिखाई पड़ेंगे। जिन पर लिखा होता है कि “कृपया धीरे गाड़ी चालाये। आप मैग्नेटिक हिल की रेंज में हैं।” आपको हम बता दें कि इस प्रकार की यह मैग्नेटिक हिल सिर्फ भारत में ही नहीं है बल्कि दुनिया में कई ऐसे स्थान हैं जहां पर यह मेग्नेटिक रेंज है। कुछ लोगों का ऐसे स्थानों के बारे में कहना है कि इन स्थानों पर किसी विशेष शक्ति का वास है। कुछ लोगो का मानना है कि यह सब प्राकृतिक है। इन स्थानों के ऊपर से जाने वाले विमानों को भी इस चुंबकीय क्षेत्र की वजह से हल्के झटके महसूस होते हैं और इसलिए विमान के पायलेट इन स्थानों से गुजरते हुए अपने विमान की रफ़्तार को बढ़ा लेते हैं ताकि विमान पर मेग्नेटिक रेंज का कम से कम असर पड़े।

To Top